kuchhkhhash

Just another weblog

33 Posts

566 comments

Reader Blogs are not moderated, Jagran is not responsible for the views, opinions and content posted by the readers.
blogid : 3598 postid : 1221086

रंग जिंदगी के

  • SocialTwist Tell-a-Friend

il_570xN.703081078_qvab

सारा जहाँ तेरा
तेरा पूरा आसमां ,
बाहें फैला तो सही
इंतज़ार में खड़ा कारवां
**********************

ये थके बोझिल पांव तेरे
कैसे नापेंगे अपार जहां,
ये टूटा फूटा मन तेरा
कैसे जीतेंगे आसमां !
***********************

क़दर उसी की होती है
जो मिलता चाँद सितारों में,
खाक की कीमत होती है
मिल जाए जो हाथों में !
**********************

जिंदगी के मायने हैं क्या
सहमे पंछी क्या जाने !
उड़ना तक सीख न पाया वो
नभ की बुलंदी क्या जाने !
**************************

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (1 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

0 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments


topic of the week



latest from jagran